जिला को बेसहारा पशु मुक्त बनाने (स्ट्रे कैटल फ्री) को लेकर उपायुक्त प्रदीप कुमार की अध्यक्षता में स्ट्रे कैटल कमेटी की बैठक का आयोजन रविवार को उपायुक्त कार्यालय में किया गया। बैठक में गोवंश की टैगिंग, गौशालाओं के रखरखाव व सुविधाओं की मोनिट्रींग व वैरिफिकेशन, गौशाला के लिए लीज पर जमीन उपलब्ध करवाने आदि विषयोंं पर विस्तार से चर्चा की गई। उपायुक्त ने कमेटी सदस्यों व संबंधित विभाग के अधिकारियों को जिला को बेसहारा पशु मुक्त बनाने की दिशा में गौशाला संचालकों, स्वयं सेवी संस्थाओं व पंचायतों के सहयोग से काम करने बारे दिशा-निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त एवं कैटल फ्री कमेटी के अध्यक्ष उत्तम सिंह, एसडीएम सिरसा जयवीर यादव, एसडीएम ऐलनाबाद दिलबाग सिंह, उप निदेशक सघन पशुधन विकास परियोजना डा. सुखविंदर सिंह सहित कमेटी के सदस्य व संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
उपायुक्त प्रदीप कुमार ने कहा कि जिला को बेसहारा पशु मुक्त बनाने के लिए सभी को मिलकर काम करना होगा, तभी इसमें सफलता मिलेगी। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि बिना टैगिंग के कोई गोवंश न हो। गौशलााओं व डेयरियों के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में भी घर-घर जाकर गोवंश की टैगिंग की जाए, ताकि खुले में छोडऩे वाले पशु मालिक की जानकारी मिले। उन्होंने कहा कि शहर में सड़कों पर पशुओं को खुला छोडऩे वालों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में सिरसा जिला में सबसे अधिक गौशालाएं हैं। यहां 137 गौशालाएं, पशु बाड़े व नंदीशालाएं हैं। इन सभी में 58177 गोवंश को आश्रय दिया गया है। उन्होंने कहा कि गौशालाओं को स्थापित करने में ग्राम पंचायतों का सहयोग लिया जाए। जो भी ग्राम पंचायत गांव में गौशाला स्थापित करना चाहती है, उसे लीज पर जमीन उपलब्ध करवाने के लिए संबंधित विभाग कार्रवाई करे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी गौशाला जोकि पंजीकृत नहीं है, उन्हें पंजीकृत करने की कार्रवाई की जाए, बशर्ते वे सभी मापदंड पूरे हों।
उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश सरकार गौ सरंक्षण एवं गौ संवर्धन को लेकर समय-समय पर हरियाणा गौ सेवा आयोग के माध्यम से गौशालाओं मेंं चारे, शैड, पानी आदि व्यवस्थाओं की सुदढ़ता के लिए अनुदान के रूप में धन राशि उपलब्ध करवाती है। उन्होंने कहा कि गौशालाओं में उपलब्ध सुविधाओं व इनमें ओर अन्य जरूरी आवश्यकताओं को लेकर एसडीएम गौशालाओं का निरीक्षण करके रिपोर्ट प्रस्तुत करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *