थैलेसीमिया पीडि़तों के लिए लगाए शिविर में 103 यूनिट रक्त एकत्रितसिरसा। थैलेसीमिया सोसायटी व डा. प्रवीन आई होस्पीटल की ओर से शिव शक्ति ब्लड बैंक में रक्तदान शिविर लगाया गया। शिविर में प्रवीन आई होस्पीटल के संचालक डा. प्रवीन अरोड़ा व अस्पताल के स्टाफ सदस्य तथा आईएमए फतेहाबाद के सचिव डा. रिपुदमन डावरा स्पैशल थैलेसीमिया पीडि़तों के लिए रक्तदान करने के लिए पहुंचे और कुल 103 लोगों ने रक्तदान किया। शिविर का शुभारंभ डा. एलएन शर्मा व डा. नीरज ने रक्तदान कर किया, जबकि समापन फतेहाबाद आईएमए के सचिव डा. रिपुदमन डावरा ने रक्तदान कर किया। शिविर में रिटायर्ड पटवारी भागीरथ कसवां के पूरे परिवार ने रक्तदान किया। भागीरथ कसवां की पत्नी बिमला देवी, जो कि अनपढ़ होने के बावजूद बागड़ी मोटिवेटर के तौर पर अपनी पहचान रखती हैं और 40 से अधिक बार रक्तदान कर चुकी हैं। वे कई राज्यों तथा प्रदेश में रक्तदान कार्यक्रमों में अपनी औजस्वी वाणी से एक अमिट छाप छोड़ चुकी हैं। अनेकों बार उन्हें सम्मानित किया जा चुका है। इस मौके पर आईएमए के स्टेट पेटर्न व शिव शक्ति ब्लड बैंक के प्रधान डा. वेद बैनीवाल, शिव शक्ति ब्लड बैंक के डायरेक्टर डा. आरएम अरोड़ा, डा. एमआर बांसल, डा. एसपी शर्मा, डा. अनीता अरोड़ा, डा. निष्ठा अरोड़ा व मिस रेनुका अरोड़ा ने रक्तदानियों का हौंसला बढ़ाया और भविष्य में इसी प्रकार रक्तदान करने के लिए पे्ररित किया। इस मौके पर डा. प्रवीन अरोड़ा ने कहा कि थैलेसीमिया पीडि़त बच्चों को हर माह रक्त की आवश्यकता पड़ती है। कई बच्चों के अभिभावक जोकि हर माह रक्त उपलब्ध नहीं करवा पाते हैं। उन्होंने कहा कि सिरसा की रक्तदान के क्षेत्र में एक विशेष पहचान है, जिसके कारण आज तक जिले में रक्त की कमी नहीं हुई। संस्था का प्रयास रहेगा कि रक्त के अभाव में कोई अमूल्य जिंदगी दम न तोड़ दे। इस मौके पर आईएम की जिला प्रधान डा. अर्चना अग्रवाल ने बताया कि करीब दस वर्ष पूर्व थैलेसीमिया सोसायटी का सिरसा में गठन किया गया था। जिसका उद्देश्य थैलेसीमिया पीडि़त बच्चों को समय पर रक्त की उपलब्धता करवाना था। डा. अग्रवाल ने बताया कि सोसायटी की ओर से थैलेसीमिया पीडि़त बच्चों को बकायदा आईकार्ड मुहैया करवाए जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *