मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी योजना के परियोजना निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने कहा है कि प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को बेहतर व पारदर्शी रूप से योजनाओं का अविलंब लाभ पहुंचाने व पेपर लैस कार्य की दिशा में सरकारी विभागों में ई-ऑफिस प्रणाली लागू की गई है। सभी विभागाध्यक्ष यह सुनिश्चित करें कि किसी भी फाइल का मूवमेंट बिना ई-ऑफिस के न हो। अगले एक सप्ताह में सभी विभाग ई-ऑफिस से संबंधित सभी कार्य को शतप्रतिशत पूरा कर लें।
डा. राकेश गुप्ता मंगलवार को वीसी के माध्यम से विभिन्न परियोजनाओं की समीक्षा करने के दौरान संंबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे। यहां लघुसचिवालय स्थित वीडियो कॉफ्रेंस में नगराधीश गौरव गुप्ता, सीएमजीजीए सुकन्या जर्नादन, डीएसपी आर्यन चौधरी, सीएमओ डा. कृष्ण कुमार, डिप्टी सीएमओ वीरेश भूषण, डीआईओ रमेश शर्मा सहित अन्य अधिकारियों ने भाग लिया।
परियोजना निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने जिला में लिंगानुपात सुधार व अंत्योदय सरल परियोजना के सफल क्रियान्वयन के लिए प्रशासन की सराहना की। उन्होंने कहा कि अन्य जिलों को भी सिरसा से प्रेरणा लेते हुए पोक्सो एक्ट के तहत प्रभावी गतिविधियों का क्रियान्यन करना चाहिए, जिससे लिंगानुपात संतुलन की दिशा में बेहतर परिणाम हासिल किए जा सकें। हाल ही में अंत्योदय सरल केंद्र की बेहतर सेवाओं के लिए रैंक में प्रथम स्थान मिलने पर प्रशासन की सराहना करते हुए कहा कि आमजन को सरल व सहज रूप से समयबद्घ अवधि में योजनाओं व सेवाओं का लाभ पहुंचाना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। इसलिए समय-समय पर ऑनलाइन माध्यम से दी जाने वाली सेवाओं की प्रक्रिया का जायजा लें।
इस दौरान उन्होंने ई-ऑफिस, सीएम विंडो, सरल पोर्टल, पीएनडीटी आदि योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की।
उन्होंने सीएम विंडों की समीक्षा करते हुए कहा कि सीएम विंडों पर आई शिकायत का प्राथमिकता से समाधान करें। संबंधित अधिकारी प्रतिदिन सीएम विंडों शिकायतों की समीक्षा करें। कोई भी शिकायत सीएम विंडों पर लंबित न रहे। उन्होंने कहा कि सरल केंद्रों पर नागरिकों को किसी भी प्रकार की दिक्कत न होने पाए। किसी को भी कार्य के लिए बार-बार केंद्र पर न आना पड़े। पोर्टल पर कोई भी पैंडेंसी न रहे, निर्धारित समय अवधि में सभी आवेदनों का निपटान करवाना सुनिश्चित करें।
वीडियो कॉफ्रेंस में सिटीएम गौरव गुप्ता ने सभी योजनाओं की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिला सिरसा में ई-ऑफिस प्रणाली के तहत कार्य शुरू हो चुका है और जल्द ही बाकी सभी विभागों में भी ई-ऑफिस प्रणाली के तहत फाइलों का आदान-प्रदान किया जाएगा। उन्होंने निदेशक को भरोसा दिलाते हुए कहा कि उन द्वारा बताए दिशा-निर्देशों अनुसार उक्त योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *